akbar birbal story in hindi 1

0
44
akbar birbal story in hindi
akbar birbal story in hindi

akbar birbal short story in hindi.akbar birbal ki kahani in hindi

Akbar Birbal short story हम  की कुछ दिल चप्स कहानियों के बारे में बात करेंगे (akbar birbal short story in hindi) इन कहानियो को बच्चे और बड़े दिलचप हो कर पड़ते है इस दोनों की कहानी पुरे भारत में ही नहीं बल्कि पुरे विश्व प्रसिद्द है इस की कहानियो से बच्चो और बड़ो को हम को बहुत कुछ सीखने को मिलता है

akbar birbal ki kahaniyanके बारे में शायद ही कोई होगा जो नहीं जनता होगा? आप को ये सुनकर ताजुब होगा की akbar birbal की कहानी विश्व प्रसिद्ध है

akbar birbal story in hindi
akbar birbal story in hindi

birbal akbar ki kuchh prasiddh kahani-बीरबल अकबर की कुछ प्रसिद्ध कहानियाँ

इन कहानी से हम को बहुत कुछ सिखने को मिलता है akbar birbal की कहानी पहले टीवी पर एपिसोड आते थे इन कहानी को लोगो को बहुत पसंद करते थे उन्ही में से कुछ कहानी पर हम बात करेगे

akbar birbal ke kisse-अकबर बीरबल के किस्से

एक बात की बात है एक छोटा सा राज्य था akbar birbal और उस राज्य में एक छोटा सा गांव था और वह पर एक जमींदार के घर में चोरी हो गयी थी akbar birbal और उस घर में जो भी कीमती चीज थी वो सब चोर चोरी कर के ले गए थे पर उस घर का जो मुखिया था यानि की जमींदार वो उस घर में काम करने वालो के ऊपर शक था उन में से चोर कोन है ये पता करने के लिए वो बीरबल के पास गया और उस घर का जो मुखिया था akbar birbal उस ने बीरबल को सारी बात बताई

akbar birbal story in hindi
akbar birbal story in hindi

पूरी बात सुनकर बीरबल में जमींदार की मदद के लिए है बोल दिया और बीरबल ने सैनिक को बोला की उन सभी को कारागार में डाल दो सिपाही ने जमींदार के घर में जितने भी लोग काम करते थे akbar birbal उन सभी को कारागार में डाल दिया

उस के बाद बीरबल ने बहुत सोचा और उन सभी को एक सामान नाप की एक रस्सी लाकर और उन सभी को लेकर देदी और बोले की तुम में से जिस ने भी चोरी की हैakbar birbal story in hindi उस की रस्सी एक इंच छोटी हो जयगी उस के बाद सिपाई को बोले की किसी को भी कारागार में से सुबह तक जाने मत देना और सुबह देखता तो एक जाने की रस्सी 1 इंच छोटी थी बीरबल ने बोलै की ये हे वो चोर

उस के बाद जमींदार बीरबल के पास गया और बोला की बीरबल से की तुम को कैसे पता की चोर वही है तो बीरबल ने मुस्कराते हुवे जवाब दिया की जो चोर था वो पूरी रात चिन्ता करता रहा और उस ने रस्सी को 1 इंच काट दिया और वो पकड़ा गया

akabar aur beerabal se poochha gaya prashn-अकबर और बीरबल से पूछा गया प्रश्न

अकबर के कितने प्रिय थे बीरबल ये तो सब को पता है राजा akbar कितनी सारी समस्या तो वो बीरबल के बोल कर दूर कर देते पर ये बात पुरे सभा में किसी को पसंद नहीं आ रही थी उन सभी लोगो ने बीरबल को राजा akbar के सामने गलत साबित करने के लिए

भरी सभा में उन लोगों ने बीरबल से बोले कि तुम मेरे सवाल का जवाब तो हम मनेगे की तुम से बुदिमान कोई नहीं है क्या तुम दोगे है बिलकुल

राजा akbar बोले की अगर तुम जवाब नहीं दे पाए तो तुम हमेशा के लिए मंत्री पद से हटा दिया जायेगा बीरबल बोले मेको मंजूर है महाराज

प्रश्न : बताओ की में महाराज के बारे में क्या सोचता हु
प्रश्न :आसमान में कितने तारे है

har mushkil ka hal akbar birbal

उतर : आप महाराज के बारे में आप ये सोचते हो की उन के जैशा कोई भी नहीं है और वो हजारो साल जिए
क्या में बिलकुल सही बोल रहा हु मित्र

उतर :इस मेड के शरीर पर जितने बाल है उतने ही सामान में तारे है आप को यकीन नहीं है तो आप गिन सकते है मेरे मित्र

ये सुन महाराजा बहुत ही खुश हुवे और सभी की बोलती बंद हो गयी सब ने बीरबल की तारीफ की

har mushkil ka hal akbar birbal

एक बार की बात है राजा अकबर की सोने की चेन गुम गयी थी और महाराज बहुत ही उदास थे ये बात उनोने अपने भरोसे वाले बीरबल को ये बात बताई उनोने खा की वो चेन मेरी बहुत ही पिर्य है क्यों की वो मेरे पिताजी ने दी थी

बीरबल ने महाराज से बोला की आप चिंता मत करो आप की चेन में ढून्ढ के दुगा उनोने पूरी सभा में बोले की महाराज की गले की चेन गुम गयी हैakbar birbal story in hindi और चोर इस ही सभा में है

वो बोले कि जिस किसी के दाढ़ी में तिनका है चोर वोही है उसी समय एक सिपाई डर और अपनी दाढ़ी देखने लगा उसी समय बीरबल बोला की चोर वोरा बीरबल बोलै की सिपाई उस की तलाशी ली जाए और महाराज की चेन उस के पास ही मिली

 

 birbal story in hindi-बीरबल की कहानी हिंदी में

 birbal story in hindi दोस्तो क्या आपको पता है कि बीरबल का असली नाम महेश दास, है जो की बीरबल के नाम से फेमश है ये बचबन से वो बहुत ही बुद्धिमान थे उन का पूरा बचपन आगरा में ही गुजरा

उन का जन्म एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था सन 1528 में हुवा था birbal story in hindi और उन की मृत्यु 16 फ़रवरी 1586 हो गयी थी birbal story in hindi उन की पत्नी का नाम उर्वशी देवी था

एक बार की बात हैakbar birbal story in hindi की राजा पान खाते उन की जीब उस पान में चुने से काट जाती है और राजा उस पान वाले को बुलाते है 250 ग्राम चुना लेकर और वो पान वाला बीरबल से चुना लेकर जता है इतने में बीरबल उस से पूछ लेते है की इतना चुना लेखर कहा जारहे हो

वो बोलता है की महाराज अकबर ने बुलया हैakbar birbal story in hindi तो बीरबल पूरी बात समज जता है और वो उस चुने वाले को बोलते है की तेरे पान से राजा की जीब काट गयी होगी इस लिए इतना चुना लेकर तुज को बुला रहे है ये तुज को ही खिलागे एक काम कर न तू उस के ऊपर से घी पिलेना वो पान वाला बिलकुल वैसा ही करता है

और वो बच जाता है उस को जीवित देखकर अकबर को ताजुब होता है और वो पूरी बात बता है की उस को किस ने ये सला दी महाराज अकबर उस पान वाले को बोलते है और उन की तारीफ भी करते है और बोलते है की आज से तुम मेरे सात काम करो गए उस दिन से महेश दास का नाम बीरबल के नाम से जाना जाते है

 

 

 

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here