Hanuman chalisa

0
6

 Hanuman chalisa

हनुमान चालीसा के लेखक का श्रेय तुलसीदास को दिया जाता है जो की एक बहुत ही अच्छे  एक कवि-संत थे,हनुमान चालीसा अवधी में लिखी गई एक काव्य कृति है, जिसमें भगवान राम के एक शानदार उत्साही हनुमान के उच्च गुणों के साथ-साथ उनके कार्यों को चालीस चौपाइयों में वर्णित किया गया है। यह वास्तव में

Hanuman chalisa


 एक संक्षिप्त श्रृंगार है जिसमें पवनपुत्र श्री हनुमान जी की आकर्षक स्तुति वास्तव में की गई है। इसमें बजरंगबली की भावपूर्ण वंदना है, श्रीराम के व्यक्तित्व को भी सरल शब्दों में उकेरा गया है। चालीसा शब्द ‘चालीस’ (40) को इंगित करता है क्योंकि इस भजन में 40 जानकार हैं (परिचय के 2 दोहे को छोड़कर)। इसके लेखक गोस्वामी तुलसीदास हैं। हालांकि इसे भारत भर में पसंद किया जाता है, हालांकि विशेष रूप से उत्तर भारत में यह बहुत प्रसिद्ध और प्रमुख भी है। लगभग सभी हिंदुओं के पास यह दिल से है। सनातन धर्म में,

 हनुमान जी को निर्भयता, समर्पण और तंत्रिका के रूप में भी माना जाता है। शिव के रुद्रावतार माने जाने वाले हनुमान जी को बजरंगबली, पवनपुत्र, मारुति नंदन, केसरी नंदन, महावीर आदि नामों से भी जाना जाता है। ऐसा माना जाता है कि हनुमान जी अविनाशी हैं। प्रतिदिन हनुमान जी का ध्यान करने और उनके मंत्रों का जाप करने से पुरुष की सारी चिंताएं दूर हो जाती हैं। कहा जाता है कि हनुमान चालीसा के पाठ से चिंता दूर होती है, क्लेश दूर होते हैं। इसकी प्रमुख संवेदनाओं पर विचार करने से श्रेष्ठ समझ से मन में भक्ति जागृत होती है। 

श्रीगुरु चरन सरोज रज निज मनु मुकुरु सुधारि ।
बरनउँ रघुबर  जसु जोमूलुमल फलचारि
बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन कुमार
बल बुधि विद्या देहु मोहि, हरहु कलेश विकार।।

Hanuman chalisa in hindi

Hanuman chalisa



हनुमान चालीसा अब आप को हिन्दी में भी मिलसकती ये पहले केवल सस्कृत में हि मिलती थी पर अब हिन्दी हिग्लिश और इग्लिश में भी मिलती हे 

Hanuman chalisa telugu

हिन्दुओं के लिये ये सबसे अच्छी बात है की अब हिन्दुओं को हनुमान चालीसा सब भाषा में में आप पड सकते हे Hanuman chalisa telugu में भी है 

Hanuman chalisa in hindi

हनुमान चालीसा एक हिन्दू भक्ति भाव भजन है जो की श्री हनुमान चालीसा उन की  शीर्ष गुण – उनकी कठोरता, तंत्रिका, ज्ञान, ब्रह्मचर्य राम जी की भक्ति  और हनुमान जी को कई नाम से जाना जाता हे  हनुमान चालीसा में वर्णित हैं। हनुमान चालीसा  लोगो का सब से लोग पिरिये भजन हे 

Hanuman chalisa fast

Hanuman chalisa fast पवन पुत्र हनुमान जी का व्रत मंगलवार को किया जाता हे क्यों की इस दिन हनुमान जी का जन्म हुवा था इस लिये मगलवार को लड़के रहकते हे हनुमान जी बाल ब्रम्ह चारि थे इस लिये लड़के ज्यादा ही रखते हे 

एक बार की बात है की अपने महल में अकबर ने गोस्वामी जी को अपने दरबार में बुलाया और बोला की श्री राम जी को मैरे से मिलवाओ तब तुलसी दस ने बोले की वो उन ही को दर्शन देते हे जो उन की मन से भक्तिी करता हे ये सुन कर उस ने उन को जेल में डाल दिया कारावास में गोस्वामी जी ने अवधी भाषा में हनुमान चालीसा लिखी। और जैसे ही उनो ने हनुमान चालीसा पूरी हुई कहते हे की अकबर के महल को गैर लिया तब उन के एक सिपाही के कहने पर गोस्वामी जी रिहा कर दिया और वो बन्दर अपने आप चले गये 

Hanuman chalisa MP3

Hanuman chalisa MP3 आप को ऑडियो में भी मिल जायेगी ये पहले केवल वीडियो में ही थी अब आप को ये औडियो और वीडियो में मिल सकती हे 

Hanuman chalisa text

Hanuman chalisa text में भी हम को शब्दों में मिली थी किसी को सुन ने में मजा आता हे तो किसी को पड़ने में अच्छा लगता हे 















LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here