maharana pratap

0
9

 maharana pratap

वैसे तो भारत की जन्म भूमि पर एक से बढ़ कर एक वीर राजाओ ने जन्म लिया पर राजा महाराणा प्रताप की अगर हम बात करे तो उन के जैसा कोई योद्धा इस पृत्वी पर कोई नहीं अगर हम उन के हिमत की बात करे तो उन के जैसा श्याद  ही कोई राजा होगा जो की इतना सकती साली होगा महाराणा

maharana pratap


 प्रताप का जन्म सन 9 मई 1540 में हुआ था  राजस्थान के एक छोटे से गांव में हुवा था जब उनका जन्म हुआ था तब उन को नाम महाराणा प्रताप नहीं बल्कि कुछ और था उन के पिता जी का नाम उदय सिंह था और उन की माता का नाम राणी जीवित था 

maharana pratap height

maharana pratap height की बात करें तो उनकी हाइट उन के परिवार में सब से ज्यादा थी वो उन के पिताजी से भी लम्बे थे उन की पिताजी की हाइट थी 2. 25 थी और महाराणा प्रताप की  हाइट थी 2.26 m


 वो उन के परिवार में सब से लम्बे थे वो एक राजपूत परिवार में जन्मे थे और उन की १० रानी थी उन के मरने के बाद उन की पहली पत्नी से जो जन्मा था उन का बड़ा पुत्र ने उन का राज पाट समला था उन के टोटल 11 बच्चे थे 

 आचार्य राघवेंद्र शिक्षक महाराणा प्रताप 

 महाराणा प्रताप की शिक्षा का नाम आचार्य राघवेंद्र था उन्होंने महाराणा प्रताप को हमेशा उन को अच्छे मार्ग पर चलना कमजो की रक्षा कर ना सब की हमेश मदत करना इस लिये वो एक राजा बने अपने परजा के प्रति 

Chetak

चेतक  महाराणा प्रताप का घोड़ा था महाराणा प्रताप  उस को अपने आप से भी ज्यादा प्यार करते थे महाराणा प्रताप को वो घोडा जंगल में जख्मी हालत में मिला था वो उन के पास बचपन से था महाराणा प्रताप का घोडा

 जब दौड़ता है तो वो हवा से बाते करता है महाराणा प्रताप का घोडा का रंग काले था कहा जाता है की जब महाराणा प्रताप युद्ध में घायल हो गये थे और दुश्मन उन की जान के पीछे थे तब महाराणा प्रताप के घोड़े ने उनकी जान बचाई थी 

महाराणा प्रताप के कितने भाई थे

महाराणा प्रताप के तीन भाई थे तीन  भाई में से सब से बड़े थे  भाईयो में बुदि मन और सकती साली और दयालु और सब से ज्यादा युद्ध भी महाराणा प्रताप ने ही जीते थे तीनो में से 

महाराणा प्रताप के कितने पुत्र थे

महाराणा प्रताप के सोला पुत्र थे जिसमें से सबसे बड़ा पुत्र था अमर सिंह जो की महाराणा प्रताप के मर ने के बाद उन की गादी पर बेटा था और सब से छोटा पुत्र था कुंवर सिंह

महाराणा प्रताप के सेनापति का क्या नाम था?

महाराणा प्रताप के सेनापति का नाम हाकिम खां था और उन के बारे में कहते है की वो इतने वीर थे की वो सो दोसो दुश्मन भी होते तो वो उन से अकेले ही लड़ने का दम रखते थे जब वो मरे थे तो उन को उनकी तलवार के सात ही दफ़न क्या था

महाराणा प्रताप का पूरा नाम

महाराणा प्रताप का पूरा नाम था महाराणा प्रताप सिंह सिसोदिया

maharana pratap jayanti

महाराणा प्रताप जयंती 9 मई 1540 को मान्य जाती है इस दिन महारणा प्रताप का जन्म हुवा था इस दिन एक सकती साली योद्धा ने जन्म लिया था ये खबर सुन कर उन के पिताजी इतने खुश हुवे थे उन को पहेली बार जब

 उन के पिताजी ने उन को गोद में लेकर उन को कीका नाम से बुलाया था तब से उन को इस ही नाम से बुलाते थे  जब उन का राज तिलक हुवा तब से उन को महाराणा प्रताप के नाम से जानने लगे 

maharana pratap cast

maharana pratap cast महाराणा प्रताप एक राजपूत खानदान से थे राजस्थान में जन्मे एक राजपूत खानदान में जन्मे थेmaharana pratap एक राजपूत थे  

हल्दीघाटी का युद्ध

हल्दीघाटी का युद्ध कौन नहीं जानता है इस युद्ध का नाम अता है तो भारत का बच्चा बच्चा जनता है की इस युद्ध में क्या हुवा था और किस ने किस को धोख्हा दिया था अकबर ने महारणा प्रताप के सैनिको अपनी और कर लिया था ये युद्ध सन 18 जून 1576 में हुवा था राजपूत और मुगलो के बिच इस


 युद्ध में अगर सब से ज्यादा सात दिया वो थे उन के सेनापति हाकिम खः ने उन का सात मरते दम तक दिया था इस युद्ध में महाराणा प्रताप को मुगलो ने

 चारो और से गैर लिया था इस युद्ध में काम से काम ५००० से ६००० तक सैनिक ने गैर लिया और महाराणा प्रताप को जख्मी कर दिया तब उन के घोड़े ने उन की जान बचई थी उन को घोड़ा उन को लेकर एक बहुत ऊंची


 पहाड़ी से महाराणा प्रताप को लेकर कूदा और उस के बाद उन का घोडा मर गया था उस के बाद महाराणा प्रताप टूट से गये देखा जाये तो ये युध्द भले ही अकबर जीता हो पर वो कभी प्रताप को नहीं पकड़ पाया उस को पूरी जिंदगी बस ये ही रहा की में महाराणा प्रताप को नहीं पकड़ पाया प्रताप ने कुछ दिन जगल में निकले थे और वह पर भी एक नगर बसया 

महाराणा प्रताप को किसने मारा

महाराणा प्रताप को अकबर ने मारा था अकबर का सब से बड़ा शत्रु महाराणा प्रताप थे ये उस के को कोई भी गलत तारीखे से कुछ भी नहीं कर ने देते थे वो उन से एक भी युद्ध नहीं जित पाया था तो उस ने उन को धोखे से मर ने का प्लान बनया और वो इस में कामियाब भी होगया 

महाराणा प्रताप की मृत्यु कैसे हुई

अकबर महाराणा प्रताप को मरने में असफल रहा  उन ही की धनुष के तर से उनकी मौत हुई थी काम से काम ६० की उम्र में वो मर गये थे 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here