Varanasi Kashi Shivaji Nagari

Varanasi Kashi Shivaji Nagari
Varanasi Kashi Shivaji Nagari

बनारस, काशी और वाराणसी की सात बातें जो बहुत कम लोगो जानते है वो क्या है

 

दोस्तों आज हम एक पवित्र जगह की बात करेंगे जिस को हम सब kashi के नाम से जानते है कशी को हम शिव जी की नगरी भी कहा जाता है ये एक पवित्र जगह है काशी विश्वनाथ मंदिर से जुड़ी इन 7  आप लोगो में से शायद ही कोई जानता होगा आज हम उन्ही 7 चीजों पर बात करते है

काशी विश्वनाथ मंदिर ये मंदिर  पवित्र गंगा नदी के पास वाराणसी,शहर बसा हुवा है ये हिन्दू के लिए ये एक  पवित्र जगह इस जगह पर लोग विश्वनाथ मंदिर के दर्शन करने आते है  अत्यंत पूजनीय स्थान है। हिंदू पौराणिक  में पवित्र dagashi kashi hentai है यह पर लाखो की संख्या में भक्त आते है ये मंदिर करोडो साल पुराना है  आप को कुछ दिलचस्प बाते बताते है आप को भी मंदिर के बारे में जानकर अच्छा लगेगा कुछ अशी बाते जो आप ने कभी नहीं सुनी होगी

वाराणसी में बने मंदिर कई बार बने और कई बार टूटे 

दोस्तों क्या आप ये मालूम है की काशी में बने  मंदिर को मुगलो ने  विश्वनाथ मंदिर को काफी बार लुटा गया था  ये मंदिर अकबर  राज में बनया गया था अकबर ने विश्वनाथ मंदिर बनाने के लिए हा बोल्दिया था पर उस के परपोते ने जिस का नाम था औरंगजेब के राज में इस मंदिर को पूरा नष्ट करने को बोला था ये मंदिर औरंगजेब के राज में तोडा गया था  और उस जगह पर एक मस्जिद  बनाई गई थी

और जब इस मंदिर का दूसरी बार निर्माण हुवा तो इस मंदिर का पूरा देख रेख रानी महान रानी अहिल्या बाई होल्कर की देख रेख में हुवा था वो इंदौर  की महारानी थी कहा जाता है की महारानी अहिल्या बाई के सपने आय थे उस के बाद रानी ने इस मंदिर का  निर्माण करवाया था

दोस्तों कहा जाता है की भगवान शिव महारानी के सपनों में आए थे  और ये भी कहा जाता है की इस मंदिर को पुनर्निर्माण के कहा था उस के बाद महारानी अहल्या बाई ने इस मंदिर को  पुनर्निर्माण का काम शुरू क्या और महाराजारणजीत सिंह  ने भी उस मंदिर के चारो और सोने के चार खबे  भी बनवाये थे

Shivling was saved from an attack

जब अकबर के परपोते औरंगजेब  ने जब मंदिर पर हमला क्या था उस समय मंदिर के एक पडित ने शिवलिंग को लेकर एक कुवे में कूद गए थे  उस मंदिर के कुवे को गियान का कुवा कहा जाता है उस कुवे को आज भी मंदिर में देखा जासकता है

Varanasi Kashi Shivaji Nagari
Varanasi Kashi Shivaji Nagari

दोस्तों कहा जाता है की जब भगवान ने इस  पृथ्वी का  निर्माण क्या था तब सूर्य  देव की पहेली किरण( kashi ) वाराणसी पर पड़ी थी भगवान शिव या के लोगों के संरक्षक के रूप में जाना जाता है दोस्तों कहा तो ये भी जाता है की भगवान शिव स्वयं कुछ समय इस मंदिर में रहे थे इस क्या काशी को भगवान शिव जी की दुनिया बोला जाता है

 

काशी में शिव जी मंदिर के भार शनि देव मंदिर क्यों होता है 

भगवान शिव की तलाश में काशी आए थे  पर शनि देव उन को मंदिर में अनेकी अनुमति नहीं थी शनि देव को भगवान शिव से मिलने के लिए उनोने पुरे सात साल इंतजार क्या था दोस्तों आप ने देखा होगा की कशी में शिव जी के मंदिर के भार  शनि देव का मंदिर जरूर होता है

 छत्र मंदिर में जो सच्चे मन से मांगते  वो पूरा होता 

कहा  जाता है की छत्र दर्शन  सच्चे मन से कुछ भी मागोगे  तो वो जरूर पूरी होती है जिसकी आकर्षक वास्तुकला देखने लायक होती है।

 भगवान शिव करेंगे रक्षा पृथ्वी की

Varanasi Kashi Shivaji Nagari
Varanasi Kashi Shivaji Nagari

जब इस संसार का अंत होगा तो बाबा विश्वनाथ यानी भगवान शिव इस पृथ्वी की रक्षा करेंगे त्रिशूल की नोक पर काशी की रक्षा करेंगे इस लिए तो सब बोलते है काम में काम महाकाल  काशी की रक्षा करने के इस कृत्य का उल्लेख हिंदू पौराणिक कथाओं में

 

  1. ganesh chalisa
  2. Shiv chalisa in hindi1
  3. shiv puran-शिव पुराण 1